UPSC की त्यारी कैसे करे?

UPSC क्या है? :-

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) भारतीय कॉन्स्टिटूशन द्वारा स्थापित एक कोंस्टीटूशनल बॉडी है जो भारत सरकार के लोकसेवा के पदाधिकारियों की नियुक्ति के लिए परीक्षाओं को कंडक्ट करता है| संविधान के भाग-14 के अंतर्गत अनुच्छेद 315-323 में एक संघीय लोक सेवा आयोग और राज्यों के लिए राज्य लोक सेवा आयोग के गठन का प्रोविशन है|

मैन्स एग्जाम के लिए प्रशन पत्र :-

प्रश्न पत्र कुल अंक
प्रश्न पेपर 1 : निबंध 250
प्रश्न पेपर 2 : इंग्लिश पेपर  250
प्रश्न पेपर 3 : भारतीय भाषा  250 
प्रश्न पेपर 4 : जनरल स्टडीज पेपर 1 250
प्रश्न पेपर 5 : सामान्य अध्ययन पेपर 2 250 
प्रश्न पेपर 6 : जनरल स्टडीज पेपर 3   250
प्रश्न पेपर 7 : जनरल स्टडीज पेपर  4 250
प्रश्न पेपर 8 : वैकल्पिक पेपर 1 250
प्रश्न पेपर 9 : वैकल्पिक पेपर 2 250

योग्यता :-

यूपी एससी परीक्षा की आयु सीमा 21 वर्ष से 32 वर्ष के उम्मीदवारों के लिए होती है| अन्य दूसरे पिछड़ा वर्ग के उम्मीदवार की आयु सीमा 21 वर्ष से 34 वर्ष तक होती है| साल में एक ही बार यूपीएससी परीक्षा का आयोजित करती है|

चरण :-

  1. प्रीलिम्स
  2. मेन परीक्षा
  3. इंटरव्यू 
  • प्रीलिम्स :– यह परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा है। इसमें 2 पेपर होते हैं| पेपर 1 और पेपर 2, सभी प्रश्नों मल्टीपल चॉइस टाइप के होते हैं|

पेपर 1 में राजनीति शास्त्र, जनरल साइंस अर्थ शास्त्र और जनरल स्टडीज साथ में करंट अफेयर्स जैसे सवालों काफी समावेश होता है|

पेपर 2 में क्वांटिटेटिव एप्टिट्यूड के आधार पर सवाल आते हैं| पेपर में पास होने के लिए कम से कम 33% अंक होने जरूरी है इसका क्वालीफाई टाइप का नेचर होता है| यह परीक्षा पास करने के उपरांत ही हम मुख्य परीक्षा में भाग ले सकते हैं|

  • मेन परीक्षा :– यह परीक्षा मुख्य परीक्षा है| आरंभिक परीक्षा में पास होने के बाद मेन परीक्षा में भाग ले सकते हैं इसके अंदर चार जी एस पेपर होते हैं इसमें एक पेपर ऑप्शनल का होता है, इसके अंदर दो पेपर होता है और दूसरा पेपर ऐसे का होता है| तीसरा पेपर इंग्लिश क्षेत्रीय भाषा का पेपर होते हैं| पारंपरिक परीक्षा की तरह मेन पेपर बी क्वालीफाइंग पेपर होता है| यह परीक्षा पास करने के बाद ही उम्मीदवार को इंटरव्यू में जाने का मौका मिल सकता है| हर एक पेपर डिस्ट्रिक्ट टाइप का होता है जिसके 250 अंक होते हैं|
  • इंटरव्यू :– मेरिट लिस्ट मुख्य परीक्षा के 7 पेपर और इंटरव्यू के दोनों अंकों को मिलाकर तैयार की जाती है| इंटरव्यू का 275 अंक होता है| कुल मिलाकर 2025 अंक का पेपर होता है|

यूपी एससी के एग्जाम के लिए करेंट अफेयर्स और जनरल अवेयरनेस का ज्ञान होना बहुत जरूरी है| 30 से 40 सवाल कम से कम करेंट अफेयर्स और जनरल नॉलेज के एक पेपर में आते हैं| इन सवालों की तैयारी के लिए हमें रोज़ाना समाचार और मैगज़ीन पढ़ना आवश्यक है|

प्रारंभिक परीक्षा पैटर्न :-

सामान्य अध्ययन I :-

प्रश्नों की संख्या 100
कुल मार्क 200
समय 2 घंटे
नकारात्मक अंक हाँ 
पेपर का प्रकार ऑब्जेक्टिव टाइप

सामान्य अध्ययन II :-

प्रश्नों की संख्या 80
कुल मार्क 200
समय               2 घंटे
नकारात्मक अंक हाँ 
पेपर का प्रकार ऑब्जेक्टिव टाइप

मुख्य परीक्षा पैटर्न :-

विषय कुल अंक
पेपर ए:- अनिवार्य भारतीय भाषा 300
पेपर बी:- अंग्रेजी                          300
पेपर I:- निबंध                              250
पेपर II:- सामान्य अध्ययन I 250
पेपर III:- सामान्य अध्ययन II 250
पेपर IV:- सामान्य अध्ययन III 250
पेपर V:- सामान्य अध्ययन IV 250
पेपर VI:- वैकल्पिक I 250
पेपर VII:- वैकल्पिक II 250

 जॉब प्रोफाइल्स :-

यूपीएससी सिविल सर्विसेज में 24 सेवाओं में मिलती है जॉब :-

  • भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)|
  • भारतीय पुलिस सेवा (IPS)|
  • भारतीय वन सेवा (IFOS)|
  • भारतीय विदेश सेवा (IFS)|
  • भारतीय सूचना सेवा (IIS)|
  • भारतीय डाक सेवा (IPOS)|
  • भारतीय राजस्व सेवा (IRS)|
  • भारतीय व्यापार सेवा (ITS)|
  • रेलवे सुरक्षा बल (RPF)|
  • पॉन्डीचेरी सिविल सेवा (PCS)|
  • पॉन्डिचेरी पुलिस सेवा (PPS)|
  • दिल्ली, अंडमान निकोबार आइलैंड्स सिविल सेवा (DANICS)|
  • दिल्ली, अंडमान निकोबार आईलैंड्स, लक्षद्वीप, दमन दीव, दादर नागर हवेली पुलिस सेवा (DANIPS)|
  • इंडियन ऑडिट एंड अकाउंट्स सर्विस (IAAS)|
  • इंडियन सिविल अकाउंट्स सर्विस (ICAS)|
  • इंडियन कॉर्पोरेट लॉ सर्विस (ICLS)|
  • इंडियन डिफेंस एस्टेट सर्विस (IDES)|
  • इंडियन डिफेंस अकाउंट्स सर्विस (IDAS)|
  • इंडियन ऑर्डिनेंस फैक्ट्रीज सर्विस (IOFS)|
  • इंडियन कम्युनिकेशन फाइनांस सर्विस (ICFS)|
  • इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस (IRAS)|
  • इंडियन रेलवे पर्सनल सर्विस (IRPS)|
  • इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (IRTS)|
  • आर्म्ड फोर्सेस हेडक्वार्टर्स सिविल सर्विस (AFHCS)|

कोचिंग के बिना आईएएस की तैयारी :-

हमारे देश में आईएएस परीक्षा काफी महत्वपूर्ण परीक्षा मानी जाती है| इसके लिए अक्सर छात्र कोचिंग करना पसंद करते है| कोचिंग करने से उनको लगता है कि वे आसानी से इस परीक्षा को पास कर लेगे| लेकिन सही मायनों में इस परीक्षा को पास करने के लिए कोचिंग की नहीं बल्कि एक लक्ष्य निर्धारण के साथ समय सीमा और धैर्य लगन सहित कठिन परीश्रम आदि के माध्यम की जरूरत होती है जिसके बाद ही इस परीक्षा को पास किया जा सकता हैं|  वहीं आईएएस परीक्षा की तैयारी के लिए छात्र को कोचिंग पर ज्यादा विश्वास होता है इसलिए वह सबसे पहला काम शहर की सबसे महंगी कोचिंग से जुड़ने को ही सफल होने का मंत्र मान लेता है| जबकि आईएएस की तैयारी षुरू करने वाले अभ्यर्थी की पहली योजना यह नहीं होना चाहिए| आईएएस की तैयारी आप घर पर रहकर भी आपको सफल बना सकती है|

घर पर कैसे करें आईएएस की तैयारी? :-

वैसे तो किसी भी परीक्षा के लिए कोई समय निर्धारण नहीं कर सकता लेकिन छात्रों को 18 महीने की अथक परिश्रम से उस समय सीमा तक पहुंच सकता है| इसके साथ अभ्यर्थी को करंट अफेयर्स सहित अन्य समसामायिक घटनाओं पर अपनी अच्छी नजर रखनी होगी| क्योंकि आईएएस की परीक्षा के लक्ष्य को तीन प्रयासों को पार कर ही प्राप्त किया जा सकता है जिसमें प्रथम प्रयास जिसे प्री एग्जाम कहते हैं उसमें करंट अफेयर्स और विषय से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं| अगर छात्र के पास 60 दिन भी बचे हैं, तो भी सही रणनीति एवं कठिन परीश्रम से लक्ष्य को भेदना नामुमकिन नहीं है|

10वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें? :-

10 वीं के बाद हालांकि आईपीएस परीक्षा नहीं दी जा सकती लेकिन आप नीचे दी गयी टिप्स के द्वारा 10 वीं से ही आईएएस बनने की तैयारी शुरू कर सकते हैं :-

  • सबसे पहले एग्जाम की पूरी जानकारी होना जररी है|
  • एग्जाम में आने वाले सिलेबस को समझें|
  • रणनीति और अध्ययन की सामग्री को इकट्ठा करें|
  • एकाग्रता के साथ पढ़ाई करें|
  • पढ़ाई के साथ ही साथ लेखन करना भी जरूरी है|
  • बार-बार मोक टेस्ट दीजिए|
  • रोज़ाना न्यूज़ पेपर और मैगज़ीन पढ़ें|

12वीं के बाद आईएएस की तैयारी कैसे करें? :-

सिविल सर्विस एग्जाम के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो आपके पास कम से कम बैचलर की डिग्री होनी चाहिए| इस एग्जाम के लिए मिनिमम परसेंटेज की कोई शर्त नहीं है| यानी अगर आप ग्रैजुएशन कर चुके हैं तो आप परीक्षा में बैठ सकते हैं| वैसे इसके लिए आप उस समय भी आवेदन कर सकते हैं जब फाइनल इयर में है|

 स्टडी मटेरियल :-

बुक्स के अलावा आपको यूपीएससी के लिए स्टडी मटेरियल भी जानना बेहद ज़रूरी है जो आपको यूपीएससी प्री और मैन्स में सफलता दिला सकता है| स्टडी मटेरियल से संबंधित जानकारी नीचे दी गई है :-

  • दूसरी एआरसी रिपोर्ट|
  • आर्थिक सर्वेक्षण|
  • बजट|
  • वित्त आयोग की रिपोर्ट|
  • केंद्रीय मंत्रालयों द्वारा वार्षिक रिपोर्ट|
  • करंट अफेयर्स|
  • द हिंदू अख़बार|
  • योजना पत्रिका|
  • प्रेस सूचना ब्यूरो विज्ञप्ति|
  • नीति आयोग एक्शन एजेंडा|

ऑनलाइन आईएएस कोचिंग प्लेटफॉर्म :-

वैसे तो आईएएस की ऑनलाइन और ऑफलाइन कोचिंग काफी सारी है जिनसे पढ़ने वाले काफी छात्रों ने यह परीक्षा पास की है| लेकिन कोरोना महामारी के चलते इस समय पूरे देश में लॉकडाउन का दौर चल रहा हैं| ऐसे में हम आपको कुछ ऐसे बेहतरीन ऐप्स के बारें में बताने वाले है जिनके जरिए आप घर बैठे ऑनलाइन आईएएस कोचिंग इन हिंदी मध्यम आसानी से कर सकते हैं ये है 5 सबसे बेहतरीन यूपीएससी की ऑनलाइन कोचिंग ऐप्स|

1. सिविल्सडेली :-

सिविल्सडेली मोबाईल एप, यूपीएससी IAS उम्मीदवारों के लिए यूपीएससी IAS परीक्षा को पास करने के लिए आवश्यक अध्ययन सामग्री उपलब्ध करने में अग्रसर है| सिविल्सडेली मोबाईल एप, कर्रेंट अफेयर्स तथा मुख्य समाचार अपडेट के लिए जाना जाता है| इसके अलावा सिविल्सडेली मोबाईल एप रोजाना न्यूज़कार्ड प्रकाषित करता है तथा न्यूज़कार्ड में उन बिन्दुओं पर विशेष ध्यान दिया जाता है जो कि IAS परीक्षा की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण है| दैनिक न्यूज़ कार्ड एक नयी पहल है जिससे की IAS उम्मीदवारों को रोज़ कर्रेंट अफेयर्स के टॉपिक्स दिए जाते हैं|

2. आईएएसबाबा :-

IASbaba का विज़न है:-  दूरस्थ स्थानों पर रह रहे IAS उम्मीदवारों के लिए यूपीएससी IAS में रैंक 1 प्राप्त कने के लिए अवसर प्रदान करना| IASbaba, IIT/IIMs जैसी प्रतिष्ठित भारतीय शिक्षा संस्थानों के पूर्व छात्र द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में एक पहल है जो IAS/IPS जैसी प्रतिष्ठित सेवाओं की चाह रखने वाले उम्मीदवारों के लिए गुणात्मक और स्मार्ट अध्ययन करने के लिए प्रेरित तथा मदद करता है| IASbaba अपने द्वारा प्रस्तुत मोक्क टेस्ट में ऑल इंडिया रैंक प्रदान करता हैं जो की IAS की तैयारी का एक एक महत्वपूर्ण अंग है| ऑल इंडिया रैंक अभ्यर्थियों में नयी उर्जा का संचार करती है तथा तैयारी को सही दिशा प्रदान करती है|

3. द हिन्दू :- 

द हिन्दू भारत का एक प्रमुख समाचार पत्र है जो कि IAS परीक्षा की दृष्टि से कर्रेंट अफेयर्स की तैयारी के लिए विशेष माना जाता है| अक्सर, IAS उम्मीदवारों को यह सलाह दी जाती है कि वह रोजाना द हिन्दू समाचार पत्र अवश्य पढ़ें| द हिन्दू का मोबाईल एप भी उपलब्ध है जो कि एक IAS उम्मीदवार आसानी से IAS परीक्षा की तैयारी के दौरान उपयोग कर सकते है| दि हिंदू में दी गई खबरों और सूचनाओं की विश्वसनीयता IAS की तैयारी के लिए देश में किसी अन्य दैनिक समाचार पत्र की तुलना में काफी ज्यादा है| IAS उम्मीदवारों को दैनिक आधार पर द हिंदू समाचार पत्र से विज्ञान, प्रौद्योगिकी, पर्यावरण और स्वास्थ्य जैसे अन्य महत्वपूर्ण क्षेत्रों की संपादकीयों को अवश्य पढ़ना चाहिए|